SAHARANPUR: नकुड़ की SDM संगीता राघव को फोन पर मिली धमकी, देवरिया का रहने वाला है आरोपी संजय सिंह

त्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में तैनात एसडीएम संगीता राघव (SDM Sangeeta Raghav) को फोन कॉल पर धमकी दिए जाने के मामला सामने आया है. आरोपी ने एसडीएम को एक मामले की सिफारिश करने के लिए कॉल किया और फिर गाली गलौच करते हुए धमकी देने लगा.धमकी देने के बाद आरोपी ने अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया. इस मामले में महिला अधिकारी की तहरीर पर पुलिस ने संगीन धाराओं में मामला दर्ज किया है.महिला पीसीएस अधिकारी संगीता राघव इस समय सहारनपुर जिले के नकुड़ इलाके में बतौर एसडीएम तैनात हैं. उनके पास जिले के थाना गंगोह इलाके के गांव बीनपुर में रहने वाले हरेंद्र सिंह के एक मामले में सिफारिश के लिए देवरिया जिले के संजय सिंह का फोन कॉल आया था. एसडीएम ने उस शख्स से फोन पर बात की और उसे सर कहकर संबोधित किया.लेकिन बातचीत के दौरान अचानक संजय सिंह नाम का वो शख्स बदसलूकी पर उतर आया. उसने SDM संगीता राघव को गाली गलौज करते हुए जूता मारकर सिर फोड़ देने तक की धमकी दे डाली और भी कई अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल किया. संगीता राघव लगातार उस शख्स सर-सर कहकर ही बात कर रही थीं. उन्होंने आरोपी को इस तरह की अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के लिए कई बार मना भी किया.लेकिन आरोपी फोन पर तेज आवाज़ में चिल्लाता रहा और संगीता राघव को धमकी देता रहा. यहां तक वो एसडीएम को कई बड़े अधिकारियों के नाम पर भी दबाव में लेने की कोशिश करता रहा. और फिर आरोपी सहारनपुर जिले में चक्का जाम करने की धमकी देने लगा. टोकने के बावजूद वो लगातार एसडीएम को जान बूझकर धमकाता रहा. आरोपी ने ज़रा भी इस बात का लिहाज नहीं किया को वो एक महिला अधिकारी से बात कर रहा है.

 इस घटना के बाद नकुड़ की SDM संगीता राघव ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने और धमकी देने वाले देवरिया निवासी संजय सिंह के खिलाफ नकुड़ थाने में तहरीर दी. SDM की तहरीर के आधार पर पुलिस ने फौरन भारतीय न्याय संहिता (BNS) की संगीन धाराओं 352, 351(3), 121(1), 224, 79 के तहत आरोपी संजय सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया.इस मामले में जब हमने सहारनपुर के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सागर जैन से बात की तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि उनकी टीम ने नंबर की जानकारी जुटा ली है. अब यह पता करना है कि ये नंबर कौन इस्तेमाल कर रहा था? उन्होंने बताया कि सहारनपुर पुलिस की एक टीम देवरिया के लिए रवाना कर दी गई है. इस मामले में कार्रवाई जारी है.आपको बता दें कि नकुड़ से पहले संगीता राघव सहारनपुर के ही रामपुर मनिहारान इलाके की एसडीएम रह चुकी हैं. मूल रूप से संगीता हरियाणा के गुरुग्राम जिले की रहने वाली हैं. उनके पिता दिनेश राघव भारतीय नौसेना में अफसर रह चुके हैं. जब संगीता अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रही थीं तो उन्हें वर्ल्ड बैंक और साउथ एशियन इंस्टिट्यूट के प्रोजेक्ट के लिए नेपाल और हिमाचल प्रदेश जाने का मौका मिला था. वहीं से उनके मन में अधिकारी बनकर जनसेवा करने का विचार आया था. उन्होंने साल 2017 में UPPCS परीक्षा दी, लेकिन क्लियर नहीं कर पाईं. लेकिन वे निराश नहीं हुईं और साल 2018 में उन्होंने यूपी PCS क्लीयर ही नहीं किया बल्कि पूरे राज्य में दूसरी रैंक भी हासिल की. उनकी छवि एक लोकप्रिय अधिकारी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *