फूड डिलीवरी वाले बनकर आए 6 लोग और BSP चीफ पर कुल्हाड़ी से कर दिया हमला…

चेन्नई. तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में शुक्रवार शाम हत्या की एक बेहद सौफनाक वारदात हुई. यहां बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की तमिलनाडु यूनिट के प्रमुख के. आर्मस्ट्रांग की 6 बाइक सवारों ने हत्या कर दी.मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि ये हमलावर फूड डिलीवरी एजेंट बनकर आए थे और आर्मस्ट्रांग पर कुल्हाड़ी और दरांती से हमला कर दिया. ये हमलावर हत्या करने के बाद वहां से फरार हो गए और पुलिस की तलाश कर रही है.पेशे से वकील आर्मस्ट्रांग 2006 में चेन्नई निगम परिषद के लिए चुने गए थे. दो साल पहले चेन्नई में एक मेगा रैली आयोजित करने और बीएसपी प्रमुख मायावती को आमंत्रित करने के बाद वे चर्चा में आए थे.

घर के बाहर ही हुआ हमला
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, आर्मस्ट्रॉन्ग चेन्नई के सेम्बियम इलाके में अपने घर के पास पार्टी के कुछ पदाधिकारियों से बातचीत कर रहे थे, तभी बाइक पर छह लोग आए और उन पर हमला करके भाग गए. इस हमले के बाद आर्मस्ट्रॉन्ग के परिवारवाले उन्हें तुरंत अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.पुलिस अधिकारियों ने कहा कि यह एक बदला लेने वाली हत्या हो सकती है, जो पिछले साल एक गैंगस्टर, अर्काट सुरेश की हत्या से जुड़ी है. वहीं एक सीनियर पुलिस अफसर ने बताया, ‘हम मामले की जांच कर रहे हैं. यह मर्डर पहले हुई एक हत्या से जुड़ी हुई लगती है.’

मायावती ने जताया दुख
बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर आर्मस्ट्रांग को दलितों की एक मजबूत आवाज बताया और दोषियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई करने को कहा है. उन्होंने लिखा, ‘बीएसपी तमिलनाडु स्टेट यूनिट के अध्यक्ष के. आर्मस्ट्रॉन्ग की आज शाम उनके चेन्नई आवास के बाहर की गई नृशंस हत्या अति-दुःखद व अति-निन्दनीय. पेशे से वकील आर्मस्ट्राँग राज्य में दलितों की सशक्त आवाज़ के रूप में जाने जाते थे. सरकार दोषियों के खिलाफ अविलम्ब सख्त कार्रवाई करे.’वहीं इस हत्याकांड को लेकर विपक्ष ने तमिलनाडु में सत्तारूढ़ डीएमके पर निशाना साधा और कहा है कि यह हत्या राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था का सबूत है. विपक्ष के नेता एडप्पादी पलानीस्वामी ने कहा, ‘जब किसी राष्ट्रीय पार्टी के राज्य प्रमुख की हत्या हो जाती है तो मैं क्या कहूं? कानून-व्यवस्था की हालत शर्मनाक है. कानून या पुलिस का कोई डर नहीं है’.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *