‘मन की बात’ में PM मोदी ने की सूर्य कुमार यादव के कैच की तारीफ, विराट कोहली-राहुल द्रविड़ का किया आभार

नेशनल डेस्क: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की ‘मन की बात’ – मासिक रेडियो प्रसारण – रविवार, 30 जून को फिर से शुरू हुई। इस अवसर पर बोलते हुए, उन्होंने कहा, “आज, आखिरकार वह दिन आ गया है जिसका हम सभी इंतजार कर रहे थे फरवरी से मैं ‘मन की बात’ के माध्यम से एक बार फिर आपके बीच में हूं, अपने परिवार के सदस्यों के बीच में हूं, मैंने फरवरी में कहा था कि चुनाव नतीजों के बाद मैं फिर आपसे मिलूंगा और आज फिर मन की बात के साथ आपके बीच उपस्थित हूं।मानसून के आगमन ने आपका भी दिल खुश कर दिया है…” प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय क्रिकेट टीम को टी 20 विश्व कप जीतने पर बधाई दी है और कहा कि क्रिकेटरों ने विश्व कप के साथ-साथ करोड़ों लोगों का दिल भी जीत लिया है। इस जीत के बाद प्रधानमंत्री ने रविवार को कॉल कर टीम इंडिया के खिलाड़ियों से व्यक्तिगत रूप से बात की और उन्हें बधाई दी।प्रधानमंत्री ने रोहित शर्मा को उनकी शानदार कप्तानी के लिए बधाई दी और उनके टी20 करियर की सराहना की। उन्होंने फाइनल में विराट कोहली की पारी और भारतीय क्रिकेट में उनके योगदान की सराहना की। प्रधानमंत्री ने हार्दिक पांड्या के अंतिम ओवर और सूर्य कुमार यादव के कैच की भी तारीफ की और जसप्रीत बुमराह के योगदान को भी जमकर सराहा। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने भारतीय क्रिकेट में शानदार योगदान के लिए टीम के कोच राहुल द्रविड़ का भी आभार जताया।

इसके साथ ही इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान के तहत लोगों से मां के नाम पर पेड़ लगाने का भी आग्रह किया। “अगर मैं आपसे पूछूं कि दुनिया का सबसे अनमोल रिश्ता कौन सा है, तो आप जरूर कहेंगे- मां। हम सभी के जीवन में मां का दर्जा सबसे ऊंचा होता है। एक मां हर दर्द सहकर भी अपने बच्चे का पालन-पोषण करती है। हर मां हर तरह का स्नेह लुटाती है।” पीएम मोदी ने कहा, “जन्म देने वाली मां का ये प्यार हम सब पर कर्ज की तरह है, जिसे कोई नहीं चुका सकता।”उन्होंने कहा, “हम धरती माँ को कुछ नहीं दे सकते, लेकिन क्या हम कुछ और कर सकते हैं? इसी विचार को ध्यान में रखते हुए, इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस पर एक विशेष अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान को ‘एक पेड़ माँ के नाम’ कहा जाता है। माँ का नाम) मैंने अपनी माँ के नाम पर एक पेड़ भी लगाया है। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *